टूटे मक़ान वाला, दिल में ताजमहल रखता हूँ

“टूटे मक़ान वाला, दिल में ताजमहल रखता हूँ,

बात गहरी मगर अल्फ़ाज़ सरल रखता हूँ.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *