मेरी हिम्मत

मेरी हिम्मत को कम मत आंको,

मैं वो हूँ जो टूटे धागों को जोड़कर ख़्वाब बुन लेता हूँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *