ख़ामोशी में चाहे जितना बेगाना-पन हो..

ख़ामोशी में चाहे जितना बेगाना-पन हो.. लेकिन इक आहट जानी-पहचानी होती है.!!

Read more »

ये मेरा दिवानापन है,या मोहब्बात का सुरूर….!

ये मेरा दिवानापन है,या मोहब्बात का सुरूर….! तू ना पहचाने तो है ये तेरी नाजरों का कुसूर….!! बसने लगी आँखों में कुछ ऐसे सपने… कोई बुलाये जैसे नैनों से अपने…!!!

Read more »

बड़ी ख़ामोशी से गुज़र जाते हैं हम एक दूसरे के

बड़ी ख़ामोशी से गुज़र जाते हैं हम एक दूसरे के करीब से.. फिर भी दिलों का शोर सुनाई दे ही जाता है…!!

Read more »

तुम इक घड़ी, इक पल, इक लम्हा.. मेरे साथ

तुम इक घड़ी, इक पल, इक लम्हा.. मेरे साथ बिताने का वादा तो करो.. मैं हँस कर कई साल, कई सदियाँ… कई जिंदगी तुम्हारा इंतजार कर लूँगा.!!

Read more »

Uske Siwa Koi Dusra Mere Jazbaat

Uske Siwa Koi Dusra Mere Jazbaat Mein Nahi..!! Aankho Mein Woh Nami Hai Jo Barsaat Mein Nahi… Paane Ki Usse Koshish Bahut Ki Maine…!! Magar Woh Aisi Lakeer Hai Jo…

Read more »